Breaking News

काला नमक वाला पानी पीने के अद्भुत फायदे, black salt benefits in hindi


सुबह सुबह काला नमक (Black Salt) और पानी मिला कर पीना स्वास्थ के लिए बहुत लाभकारी होता है. इस घोल को सोल वॉटर कहते हैं जो आपकी ब्ल ड शुगर, ब्लहड प्रेशर, ऊर्जा में सुधार, मोटापा और अन्यब तरह की बीमारियां में बहुत लाभकारी होता है. 

ध्यानन रखियेगा कि आपको किचन में मौजूद सादे नमक का प्रयोग नहीं करना है. आपको काले नमक का प्रयोग करना है जिसमे 80 खनिज और जीवन के लिए वे सभी आवश्यक प्राकृतिक तत्व पाए जाते हैं.

काले नमक के पानी के फायदे:

1. पाचन दुरुस्तक करे – 
यह पानी पेट के अंदर प्राकृतिक नमक, हाइड्रोक्लोरिक एसिड और प्रोटीन को पचाने वाले इंजाइम को उत्तेजित करने में मदद करता है। इससे खाया गया भोजन टूट कर आराम से पच जाता है। इसके अलावा इंटेस्टामइनिल ट्रैक्ट और लिवर में भी एंजाइम को उत्तेाजित होने में मदद मिलती है, जिससे खाना पचने में आसानी होती है।

2. नींद लाने में लाभदायक – 

इसमें मौजूद खनिज हमारी तंत्रिका तंत्र को शांत करता है। नमक, कोर्टिसोल और एड्रनलाईन, जैसे दो खतरनाक सट्रेस हार्मोन को कम करता है। इसलिये इससे रात को अच्छी  नींद लाने में मदद मिलती है।

3. शरीर करे डिटॉक्सी - 
नमक में काफी खनिज होने की वजह से यह एंटीबैक्टीसरियल का काम भी करता है। इसकी  वजह से शरीर में मौजूद खतरनाक बैक्टीनरिया का नाश होता है।

4. हड्डी की मजबूती - 
हमारा शरीर हमारी हड्डियों से कैल्शिकयम और अन्यश खनिज खींचता है। इससे हमारी हड्डियों में कमजोरी आ जाती है इसलिये नमक वाला पानी उस मिनरल लॉस की पूर्ती करता है और हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है।

5. त्वरचा की समस्याम - 
नमक में मौजूद क्रोमियम एक्नेअ (Acne)  से लड़ता है और सल्फइर से त्वनचा (skin) साफ और कोमल बनती है। इसके अलावा नमक वाला पानी पीने से एक्जितमा (eczima) और रैश (Rashes) की समस्या् दूर होती है।

6. मोटापा घटाए - 
यह पाचन को दुरुस्ति कर के शरीर की कोशिकाओं तक पोषण पहुंचाता है, जिससे मोटापा कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

नमक वाला पानी बनाने की विधि -
एक गिलास हल्के गरम पानी में एक तिहाई छोटा चम्मिच काला नमक मिलाइये। इस गिलास को प्लािस्टिेक के ढक्कन से ढंक दीजिये। फिर गिलास को हिलाते हुए नमक मिलाइये और 24 घंटे के लिये छोड़ दीजिये। 24 घंटे के बाद देखिये कि क्या काले नमक का टुकड़ा (क्रिस्टऔल) पानी में घुल चुका है। उसके बाद इसमें थोड़ा सा काला नमक और मिलाइये। जब आपको लगे कि पानी में नमक अब नहीं घुल रहा है तो, समझिये कि आपका घोल पीने के लिये तैयार हो गया है।