Breaking News

घमौरियों से तुरंत राहत के लिए कुछ घरेलु उपाय, ghamori ke lie gharelu upachar


गर्मी के दिनों में घमौरी हो जाना एक आम बात है। घमौरी हो जाने पर शरीर में हल्की सी चुभन और खुजली होने लगती है। यह ऐसा चर्मरोग है जो गर्मी और बरसात के मौसम में हो जाया करता है। यह ज्यादातर हमारी छाती, पीठ, कमर के आस-पास हुआ करती है।

घमौरी का मुख्य कारण पसीना है। पसीने को अच्छी तरह साफ़ न करने पर वह सुख जाती है और पसीने की ग्रन्थियों को बंद करके घमौरियों का रूप ले लेती है। घमौरी से बचने का बेहतरीन उपाय जानिये AyurvedaSagar.in से......

(1) घमौरियों की तकलीफ आमतौर पर गर्मियों या बरसात में होती है, इसका मुख्य कारण है पसीना। 

आधा किलो कच्ची हल्दी की गाँठों का रस निकालकर उबाल लें। ठण्डा होने पर 200 ग्राम शहद मिलाकर किसी बंद काँच के बर्तन में रख दें। किसी भी फल के शर्बत के साथ दो या तीन चम्मच हल्दी का रस मिलाकर लें। इससे शरीर की सारी गर्मी निकल जायेगी।
                                         

(2) घाम हो जाने पर मुल्तानी मिट्टी का शरीर पर लेप करें। घाम शान्त हो जायेंगे।

(3)  सरसों के तेल व पानी को अच्छी तरह फेंटकर घाम पर लगाएँ घाम ठीक हो जायेंगे।

(4) शरीर में घमौरियाँ व खुजली हों, तो जीरे का प्रयोग आश्चर्यजनक रूप से लाभ पहुँचाता है।

(5) गर्मियों में घमौरियों पर बर्फ का टुकड़ा मलने से घमौरियाँ दब जाती हैं।

(6) घमौरियाँ दूर करने के लिये मुल्तानी मिट्टी पाउडर में दही मिलाकर साबुन की टिकी की तरह बना लें। साबुन के स्थान पर इसे टिकी की तरह प्रयोग करें। घमौरियों से राहत मिलेगी।

(7) दूध में मुल्तानी मिट्टी मिलाकर  चेहरे व शरीर पर लेप करने से ठण्डक मिलती है और गर्मी में होने वाली धमौरियाँ भी नहीं निकलती हैं।

(8) गर्मी में पीठ और गले पर व शरीर की नरम त्वचा पर छोटी-छोटी मरेड़ी (अंधौरी) होने लगती है। मेहँदी के लेप से एक दम उनकी जलन मिट जाती है। यह परीक्षित है।

(9)  नारंगी के छिलकों को सुखाकर पाउडर बना लें। नहाने के बाद गुलाब के पानी में भीगे हुए रुई से प्रभावित जगहों पर थपकी दें। सूखने के बाद छिलके के पाउडर को उन्हीं जगहों पर छिड़क दें।

(10)  जामुन की पत्तियों को पीसकर उसमें खाने का सोडा मिलाकर घमौरियों पर लगाएं।

(11) रोजाना सुबह, दोपहर और शाम को नींबू पानी पीने से घमौरियां नहीं निकलती हैं।

(12) घमौरियों से बचने के लिए नीम युक्त साबुन से स्नान करें।

(13)  खरबूजे का गूदा निकालकर जहां घमौरियां हुई हैं। उस जगह पर लगाने से राहत मिलेगी।

(14) सुबह और दोपहर को एक-एक गन्ना चूसने से भी शरीर की गर्मी शांत होती हैं और घमौरी मिट जाती है।

(15)  नीम के तेल में कपूर का चूर्ण मिलाकर उस तेल से जहां घमौरियां हुई हैं। वहां मालिश करें। आधे घंटे बाद नहा लें।

(16)  कोकम की चार फांके दो गिलास पानी में रातभर भिगोकर रखें। सुबह इस पानी को तब तक बालें जब तक पानी एक गिलास न रह जाए। ठंडा होने पर उसमें 3 चम्मच शक्कर मिलाकर पी जाएं। यह शरीर की गर्मी दूर करता है और घमौरियों को भी मिटाता है।

कोई टिप्पणी नहीं